रायपुर,  13 नवंबर 2019, सौ.कुसुम ताई दाबके विधि महाविद्यालय में दो दिवसीय छात्रों के लिए वकीलों की व्यवसायिक नैतिकता नियमों, न्यायिक अर्ध न्यायिक श्रोत एवं नैतिकता अध्ययन एवं बार बेंच की स्वतंत्रता और निष्पक्षता विषय पर सेमिनार का आयोजन प्रारंभ हुआ।

सेमिनार 13 नवंबर 2019 एवं 14 नवंबर 2019 को रखा गया है. पहले दिन में छात्र वकीलों की व्यवसायिक नैतिकता एवं नियमों के स्रोत, न्याय तथा अर्ध न्यायिक श्रोत एवं नैतिकता के विषय पर अपने विचार रखे, साथ ही बार एवं बेंच के स्वतंत्रता एवं निष्पक्षता पर भी अपने विचार व्यक्त किये.

दूसरे दिन सेमिनार में विधि व्यवसाय के विशेषाधिकार अर्थात वकीलों के विशेषाधिकार शक्तियां एवं व्यवसाय कदाचर आदि के विषय में छात्र अपने विचार रखेंगे.

प्रथम दिन के सेमिनार में छात्रों ने खुलकर अपने अपने विचार रखें जिसमें वकीलों की नैतिकता उनकी सीमाएं उनके द्वारा अपने मुवक्किल से किए जाने व्यवहार पर विचार व्यक्त किए इसके साथ ही न्यायालय के साथ कैसे व्यवहार करना चाहिए, उनके व्यवसायिक संबंध अपने मुवक्किल से कैसे होने चाहिए इन विषयों पर कई छात्रों ने अपने अपने अलग और अच्छे विचार रखें.

रायपुर।

SHARE