December 2, 2022

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

अनियमित कर्मचारियों पर वर्षे डंडे! कई पहुचे अस्पताल, डंडे खाने के बाद भड़के हड़ताली

रायपुर। एसजी न्यूज। छ.ग. संयुक्त प्रगतिशील कर्मचारी महासंघ के बैनर तले अनियमित कर्मचारियों की हड़ताल का आज आठवां दिन था। महासंघ द्वारा आज मौन रैली का आयोजन किया गया था, लेकिन भारी संख्या को देखते हुए प्रशासन द्वारा उन्हें अनुमति नहीं दी गई, लेकिन भीड़ ने रैली की शक्ल लेली। संबधित क्षेत्र ने एहतियातन पुलिस ने धारा 144 लगा दिया था। उसके बाद भी हड़तालियों की संख्या इतनी भारी थी कि पूरा फूल चौक तक पहुच गए पूरा रास्ता घंटो बन्द रहा।

संघ की ओर से अनिल देवांगन ने बताया कि पुलिस प्रदर्शनकारियों के बीच इस बात की सहमति बन गयी थी की गिरफ्तारी की जाएगी और रैली समाप्त कर दी जाएगी, जिसके लिए संघ 55 हजार धरने पर आए कर्मचारियों की नाम सहित लिस्ट गिरफ्तारी हेतु देने के लिए तैयार हो गया।

सहमति बनने के बाद लाठी चार्ज क्यों?
मिली जानकारी के अनुसार जैसे ही हड़तालियों की वापसी शुरू हुई पीछे कुछ लोगों पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया, जिसमे कई घायल हुए कुछ को गंभीर चोट आई जिन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। संघ ने गंभीर सवाल उठाया कि जब रैली समाप्त करने की सहमति पुलिस और संघ के बीच बातचीत से हो गयी फिर भी लाठी चार्ज क्यों किया गया जबकि सब शांतिपूर्ण था? पुलिस का कोई बयान नही मिल पाया कि लाठी चार्ज करने की स्थिति क्यों बानी?

लाठी चार्ज के बाद हड़तालियों में आक्रोश बढ़ गया है, आगे की लड़ाई कैसे हो ये बैठकर तय करेंगे, नाम न छापने की शर्त पर एक कमर्चारी ने कहा इस बात की रणनीति बना रहे है कि ये लड़ाई अब आरपार की होगी हम प्रदेश भर में सरकार की पोल खोलेंगे किस तरह सरकार हमारा शोषण कर रही है। सरकार के पास लाठी है वो हमें लाठी दे रही है इसका जवाब चुनाव में दिया जाएगा। ये डंडे सरकार को याद दिलाये जाएंगे।
I

Spread the love

You may have missed