December 2, 2022

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

फर्जी खनिज परिवहन की पर्ची लगाने वाले ठेकेदार के ऊपर कलेक्टर ओपी चौधरी के निर्देश पर हुआ एफआईआर दर्ज

रायपुर। अवैध खनिज और परिवहन की खबरे आये दिन आती रहती है। किन्तु भुगतान के लिए फर्जी पर्ची का सहारा लेकर रॉयल्टी चोरी का मामला सामने आया जिसमे रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी ने कांट्रेक्टर संतोष अग्रवाल और अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

दरअसल मेसर्स संतोष अग्रवाल को राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ नगर पालिका में निर्माण कार्य का ठेका मिला हुआ है। ठेकेदार ने जिला कार्यालय राजनांदगांव को रॉयल्टी चुकता प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र पेश कर जिला कार्यालय रायपुर की कुल 206 नग पर्ची पेश किया गया। ये पर्चियां रायपुर जिले की होने के कारण सत्यापन के लिए मिला है। ये पर्चियां प्रथम द्रष्टया फर्जी प्रतीत होती हैं। विभाग के अधिकृत पट्टेदारों से बयान लिया गया है। फर्जी रॉयल्टी पर्ची कहां से प्राप्त की गई हैं जिसका सत्यापन विभाग के अधिकृत पट्टेदारों से बयान लेकर किया गया जो पूर्णतः फर्जी पायी गई। इन पर्चीयों को किस स्त्रोत से प्राप्त किया गया है। इसका कोई प्रमाण उपलब्ध नही है। यह मामला राज्य शासन की रायल्टी चोरी और खनिज राजस्व की क्षति का है।

मामले को कलेक्टर ने गंभीरता से लेते हुए तुरंत संबंधित के एफआईआर कराने को निर्देश दिए।

Spread the love

You may have missed