December 2, 2022

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

मध्यप्रदेश: खराब सड़क की शिकायत की तो 61 साल के बुजुर्ग को कलेक्टर ने पहुचा दिया जेल

नरसिंगपुर: मध्य प्रदेश के नरसिंह में खराब सड़क की शिकायत करना एक बुजुर्ग को भारी पड़ गया। 21 अगस्त को जनसुनवाई में पहुंचे 61 साल के बुजुर्ग को नरसिंहपुर कलेक्टर अभय वर्मा ने ऊंची आवाज में बात करने के आरोप लगाकर जेल भेज दिया। यह बुजुर्ग पांचवें दिन बड़ी मुश्किल से जमानत पर शनिवार को जेल से बाहर आए। अब बुजुर्ग ने अपने साथ हुए अन्याय के खिलाफ कलेक्टर पर मामला दर्ज करने की मांग की है।

पीड़ित बुजुर्ग का नाम पी के पुरोहित है। वह रेलवे से सेवानिवृत्त हैं। वह नरसिंहपुर जिले के ग्राम खुरपा के रहने वाले हैं। उनके इलाके की सड़क बहुत खराब थी। वह 21 अगस्त को जनसुनवाई में सड़क बनाने की मांग लेकर गए थे। इस सड़क निर्माण के लिए वे pwd से लेकर सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत कर चुके हैं।

पुरोहित ने मीडिया से कहा ‘मैंने अपनी शिकायत के साथ पूरा विवरण दिया और कलेक्टर अभय वर्मा को बार-बार बताया। उन्होंने गुस्सा होकर मुझे जेल भेज दिया जिसका कोई कारण नहीं है। मैंने कोई गलत शब्द नहीं बोले।’ पुरोहित ने कहा कि उसका कुसूर सिर्फ इतना है कि वह चाहते हैं कि दो किलोमीटर की सड़क उसके गांव में बन जाए।

कलेक्टर के अभद्रता और शराब पीकर गलत व्यवहार के आरोप में बुजुर्ग ने कहा, ‘मैंने पुलिस अधीक्षक को आवेदन दिया है और उनसे कहा है कि घटना के दिन दिवस की सीसीटीवी फुटेज देखकर कलेक्टर पर एफआईआर दर्ज करें।’ स्थानीय लोगों ने कहा कलेक्टर का आरोप गलत है वह पंडित जी के पूरे परिवार से परिचित है शराब तो दूर वे और उनका परिवार गलत बात तक नही करता है।

एसएसपी डीएस भदौरिया ने कहा कि उन्हें पीके पुरोहित की ओर से लिखित शिकायत मिली है। पुलिस उनकी शिकायत की जांच करवाएगी।

सवाल यह है कि क्या प्रशासनिक अधकारियों की सहनशीलता इतनी कम हो गयी है कि एक 61 साल के बुजुर्ग को कहासुनी में जेल भेज दिया जाए। जनता के साथ अधिकारियों की रोज कहासुनी होती है लोग अपना दुख लेकर आते है। किंतु अधिकारी अपना धैर्य नही खोता। नए अधिकारियों के ये लगने लगा है कि वह जानता कि सेवा के लिए भर्ती नही हुए बल्कि वो राजा है और जनता उनकी सेवा के लिए बनी है।
अब देखना यह है कि ये खबर राष्ट्रीय मुद्दा बन चुकी है इसमें क्या मुख्यमंत्री शिवराज सिंह कोई कायवाही करते हैं।

Spread the love

You may have missed