July 5, 2022

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

रमन सिंह ने कहा- जब सब कुछ बीजेपी ने दिया, तो फिर कांग्रेस को वोट क्यों भाई ?

बिलाईगढ। चुनाव प्रचार अभियान के तहत बिलाईगढ़ पहुंचे मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है। रमन ने कहा कि कांग्रेसी सिर्फ नारे लगाते हैं। गरीबी हटाओ का नारा लगाकर 70 साल लगा दिया। गरीब और गरीब हो गया। गरीब पलायन कर गया। भूख से मौत हो गई। रमन सिंह ने कहा कि मुझे ख्याल नहीं कि गरीबी दूर करने के लिए कांग्रेस ने कोई योजनाएं भी बनाई होंगी। उन्होंने जनता से पूछा कि क्या कभी गरीबों के लिए चावल की योजना बनाई? नमक की योजना बनाई? आवास योजना बनाई? स्वास्थ्य के लिए स्मार्ट कार्ड दिया? बेटियों को कभी साइकिल दिया था? कभी गैस सिलेंडर दिया था? जब नहीं दिया था, तो वोट क्यों देते हो? यही बताने आया हूं।

मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस को गरीब के लिए चिंता तब हुई, जब 2003 में बीजेपी की सरकार बनी। डाॅक्टर रमन को आपने मुख्यमंत्री बनाया। उन्होंने कहा कि अभी चुनाव है, ऐसे में कांग्रेस के मित्र अभी बड़े-बड़े वादे करेंगे। नारे लगाएंगे। लेकिन देश ने देख लिया इनके नारे में कोई दम नहीं। देश के नक्शे में सफाया हो गया। केवल छह फीसदी हिस्से में कांग्रेस है। 75 फीसदी हिस्से पर बीजेपी है. आखिर क्या कारण है कि नेहरू और सरदार पटेल की कांग्रेस सिमटकर दो राज्यों में सीमित हो गया। कांग्रेस के नेताओं ने जनता की उपेक्षा की। काम नहीं किया इसलिए सिमट कर यहां आ गए। सीडी कांड का जिक्र करते हुए रमन ने कहा कि राजनीति में गिरावट की यह पराकाष्ठा है कि कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष सीडी के जरिए सत्ता में आने का सपना देख रहा है। ये लोग विकास के मुद्दे पर नहीं बल्कि सीडी के मुद्दे पर चुनाव जीतना चाहते हैं।

रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ को विकास की गति देने के लिए आपके सहयोग की जरूरत पड़ेगी। बीजेपी की सरकार यदि छत्तीसगढ़ में बन रही है, तो यहां से भी बीजेपी का विधायक बनना चाहिए। उन्होंने कहा कि सतनाम समाज के तमाम संत महात्माओं को याद करते हुए कहा कि यहां की मिट्टी को मैं आज अपने माथे पर लगाता हूं। उन्होंने कहा कि यह चुनाव केवल छत्तीसगढ़ का चुनाव नहीं है। यह आपके विधानसभा का चुनाव नहीं है। पूरा देश देख रहा है। यह देख रहा है कि बीजेपी की सरकार ने गांव, गरीब और किसानों के लिए जो काम किया है। जो योजनाएं बनाई, उन योजनाओं का पांच साल में कितना असर हुआ है। वनवासी क्षेत्रों में रहने वाला वनवासी, भाई बंधु के लिए जो योजनाएं बनाई उन योजनाओं का असर इस चुनाव में मिलेगा।

Spread the love

You may have missed