December 2, 2022

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

शोक: पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का निधन

कलकत्ता। पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का निधन हो गया है। वह कई दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। 89 वर्षीय चटर्जी गुर्दे से संबंधित बीमारी से पीड़ित थे।

तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें 10 अगस्त को कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। माकपा के पूर्व नेता सोमनाथ चटर्जी 10 बार लोकसभा के सांसद रह चुके हैं। वह कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए वन सरकार में 2004 से 2009 तक लोकसभा के अध्यक्ष रहे थे।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह एक संस्थान थे और पार्टी लाइन से हटकर सभी सांसदों के मन में उनके लिए अपार सम्मान था। इस दुख के समय में उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी सोमनाथ चटर्जी के निधन पर दुख जाहिर किया है। केजरीवाल ने कहा कि यह खबर सुनकर बेहद दुखी हूं। उन्हें लोकसभा के सबसे महानतम स्पीकर की श्रेणी में हमेशा याद रखा जाएगा।

चटर्जी 1968 में माकपा से जुड़े थे। 2008 में माकपा ने भारत-अमेरिका सिविल न्यूक्लियर डील के मुद्दे पर यूपीए सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। इस दौरान चटर्जी ने बतौर लोकसभा स्पीकर इस्तीफा देने से इनकार कर दिया था। वे देश के सबसे लंबे वक्त तक सांसद रहने वाले नेताओं में शामिल रहे।

बता दें कि पूर्व लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी मशहूर वकील निर्मल चंद्र चटर्जी के बेटे थे। निर्मल चंद्र अखिल भारतीय हिंदू महासभा के संस्थापक भी थे। अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत सोमनाथ चटर्जी ने सीपीएम के साथ 1968 में की और वह 2008 तक इस पार्टी से जुड़े रहे। 1971 में वह पहली बार सांसद चुने गए थे। इसके बाद उन्होंने राजनीति में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। वह 10 बार लोकसभा सदस्य के रूप में चुने गए थे।

Spread the love

You may have missed