September 22, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

10 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार के आरोप आई.एफ.एस. जगदीशन पर, जाँच की फाइल 3 वर्षों से डीएफओ के टेबल में खा रही धूल…. मुख्यमंत्री तक हो चुकी शिकायत…

27 फ़रवरी 2021, एस. जगदीशन (आई.एफ.एस. 2005 बैच ) के ऊपर भ्रष्टाचार के कई गंभीर आरोप लगते रहे हैं पर अपनी पहुंच और पावर से बीजेपी शासन में बचते रहे। आश्चर्य की बात हैं कि 2018 में भाजपा सरकार के दौरान भ्रष्चार कि शिकायत मुख्यमंत्री को हुई जिसकी जांच के लिए कई पत्र चल गए। सीसीएफ बिलासपुर ने सितम्बर 2018 में डीएफओ कोरबा को मुख्यमंत्री को शिकायत का हवाला देते हुए जाँच कर एफआईआर दर्ज करने पत्र लिखा था। उसके बाद सरकार बदल गयी कई डीएफओ बदल गए इसके बाबजूद इनके ऊपर जांच लंबित 3 वर्षों से डीएफओ के टेबल पर धूल खा रही है। बड़ा सवाल यह है कि डीएफओ कि हिम्मत नहीं है फाइल खोलने कि या कुछ और यह तो विभाग ही जाने, लेकिन बात उठना लाजिमी है कि जांच होने से कोई न कोई बचा रहा है।

क्या है मामला ?
दरअसल कटघोरा वनमंडल का जिसमें पदस्थ आईएफएस एस. जगदीशन के ऊपर DFO रहते वानिकी कार्यो और समान खरीदी में 10 करोड़ के गबन का आरोप लगा हैं। एक मजदूर के खाते में संपूर्ण राशि डालकर पैसे आहरण करने का आरोप है। शिकायतकर्ता द्वारा मुख्यमंत्री को सन 2018 में शिकायत कर एफआईआर दर्ज कराने हेतु लिखा गया। मुख्यमंत्री निवास से बकायदा प्रधान मुख्य वन संरक्षक को इसकी जांच के लिए पत्र भी जारी हुआ। इसके लिए मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर को वरिष्ठ ऑफिस से पत्र जारी हुआ। इसके लिए वन मंडल कोरबा को जांच के लिए सीसीएफ बिलासपुर द्वारा लिखा गया। कोरबा वन मंडल में आज तक आज तक जांच नहीं हो पाई। प्राप्त जानकारी के अनुसार वन मंडल कोरबा से दर्जनों बार कटघोरा वन मंडल को दस्तावेज उपलब्ध कराने के लिए पत्र जारी हो चुका हैं पर कटघोरा वन मंडल के द्वारा जानकारी नहीं दी जा रही हैं। इसी से भ्रष्टाचार सिद्ध हो जाता हैं। आखिर इतने गंभीर आरोप के जांच होने में 3 साल कैसे लग गए ???

शिकायत में यह भी…….
शिकायत में ये भी लिखा हैं कि तमिलनाडु के गृह जिले में भी परिजनों के नाम पर करोड़ों की संपत्ति खरीद रखी हैं। छत्तीसगढ़ से धन कमा कर तमिलनाडु लेे जा रहे हैं। चर्चा यह भी जोरो पर है कि आई.एफ.एस. जगदीशन ने रायपुर के धरमपुरा में 3-4 करोड़ का आलीशान बंगला बनवा रखा हैं।

अभी ट्रांसफर होकर चार्ज लिया है मामले कि पूर्ण जानकारी नहीं है : प्रियंका पांडेय, डीएफओ कोरबा
एसजी न्यूज़ ने कोरबा डीएफओ प्रियंका पांडेय से यह जानना चाहा कि जाँच अभी तक क्यों लंबित है? उन्होंने कहा मैअभी हाल ही में ट्रांसफर होकर आयी हूँ और चार्ज लिया है पूरे मामले कि जानकारी नहीं है।

मेरे संज्ञान में नहीं है पता करवाता हूँ : नावेद सुजाउद्दीन, सीसीएफ बिलासपुर
हाल ही में बिलासपुर वृत्त में ट्रांसफर होकर पहुंचे नावेद सुजाउद्दीन, सीसीएफ ने कहा मामला अभी तक मेरे संज्ञान में नहीं था पता करवाता हूँ।

Spread the love

You may have missed