September 21, 2021

Suyashgram.com

मासिक पत्रिका एवं वेब न्यूज़ पोर्टल

हाथो हाथ बीक रही है छत्तीसगढ़िया राखिया

स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा लगाए गए स्टॉल में धान से बनी हुई इस तरह की कलरफुल राखियां बिक रही

दूसरे जिलों में भी की जा रही है पसंद,

समूह की सदस्यों ने बताया कि बिलासपुर ही नहीं, बल्कि उनकी राखियों को अन्य जिलों में भी पसंद और आर्डर किया जा रहा है। यही वजह है कि रायपुर के एक फैंसी स्टोर्स चलाने वाले व्यवसायी ने अपनी दुकान में बेचने के लिए 110 राखियाँ समूह से खरीदी हैं।

Spread the love

You may have missed